जिंदगी क्या है ?

रेगीस्तान में फूल खीलाना, जिंदगी है ।
राख में चिनगारी ढूंढना, जिंदगी है ।
मुसिबतों में मौका ढूंढना, जिंदगी है ।
समस्याओ का समाधान ढूंढना, जिंदगी है ।
हर परिस्थिति पर काबू पाना,  जिंदगी है ।
दुःख में भी खुशी की तलाश करना, जिंदगी है ।
कर्म के फल की अपेक्षा नहीं रखना, जिंदगी है ।
मन पर जीत हासिल करना, जिंदगी है ।
हर हाल में मुस्कराना, जिंदगी है ।
आयोजन से और पुरूषार्थ से
मंज़िल को पाना, जिंदगी है ।     विनोद आनंद

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s