ईन्सान का प्रमाण

​ईन्सान का प्रमाण क्या है ? 

पहेला प्रमाण ईन्सान कि मूरत है ।

दूसरा प्रमाण ईन्सान का है कि, 

किसी के दु:ख से दुखी होकर, 

उस का बने सहारा ।

किसी कि खुशी में खुस रहे, 

और उस को अभिनंदन कहे ।

किसी कि जिंदगी को आसान 

बनाने का प्रयत्न करे ।

किसी कि निंदा, ईर्षा न करे ।

काम, क्रोध, लोभ और मद न करे ।

अपनी जिम्मेदारी निभाए ।

समस्या का समाधान करे ।

जिस का मन शांत और संयमी हो ।

अधिकार पर नही कर्तव्य ध्यान दे ।

यही है ईन्सान का सच्चा प्रमाण है ।
विनोद आनंद                             11/08/2016        फ्रेन्ड, फिलोसोफर, गाईड

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s