781 लंबी जूदाई

लंबी जूदाई बरसो से

बिछडे हो माधव कब खत्म 

होगी लंबी जूदाई माधव ।

अब दूरी नही सही जाती

ईस जन्म में जूदाई खत्म

हो एसी प्रेरणा,भक्ति और

कृपा करो माधव ।

यह जीवन तुम्हारे हवाले

मक्सद मिलन है माधव

साधना करने कि देना शक्ति ।

ओर न करना देरी वरना

जूदाई ओर लंबी हो जाएगी माधव ।

श्रध्धा ओर विश्रवास का बांध

टूटने से पहेले जूदाई मिटे माधव

बस यही आखरी ख्वाईश है, 

ईन्तजार ही लक्ष्य है आश 

न टूटे प्यास बूजे माधव ।

अब तो आ के मिलो माधव ।
विनोद आनंद                                19/05/2017   फ्रेन्ड,फिलोसोफर,गाईड

Advertisements
This entry was posted in Uncategorized. Bookmark the permalink.

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s