1087 मुस्कान का मूल्य

प्राणीओं में सिर्फ मनुष्य
हि मुस्कारा शकता है ।
मुस्कान अनमोल बक्षिस ।
जिस चहरे पे मुस्कान नही वो
चहेरा ईन्सान का नही लगता ।
मुस्कान चहरे कि सुंदरता है,
मन कि खुशी,दिल कि महेबूबा
और जीवन का आनंद है ।
मुस्कान गम भूलाए, खुशी
शांति और क्षमा दिलाए ।
चहरे पे मुस्कान,खिला गुलाब
प्रेम कि खुशबू और रिश्तों कि शान ।
हर पल मुस्कान को चहरे पे
खिलने दो तो दूसरा चहेरा भी
गुलाब बनके प्रेम कि खुशबू
फैलाएगा ओर चहेरों के लिए ।
जब सभी चहेरे मुस्कराने लगेंगे
तब धरती धरती नही प्रेम नगर
बनेगी और दुनिया स्वर्ग बनेजी ।
यही मूल्य है मुस्कान का ।
यही शक्ति है मुस्कान कि ।
विनोद आनंद 20/02/2018
फ्रेन्ड, फिलोसोफर, गाईड

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

w

Connecting to %s