1666 विद्यार्थी, वाली और परीक्षा

परीक्षा के वक्त विद्यार्थी, वाली
तनाव में आ जाते है,उस का
असर विद्यार्थी पे होता है तो
कम माकर्स आते है या नापस
होता है और फिर तनाव ओर
बढ जाता है, तनाव कैसे दूर करे ।
असरकारक-आवश्यक सुचानाएँ,
प्रयोग करने से परीक्षा के वक्त
घर में आनंद का माहोल हो जिसे
विद्यार्थी परीक्षामें उत्तीर्ण हो शके ।
जिस कि जिम्मेदारी वालीयों कि है ।
1) बच्चे के लिए परीक्षा है, परीक्षा
के लिए बच्चा नहि है एसा माईन्ड
सेट करे और मान्यता बनानी है ।
विद्यार्थी को परीक्षा का तनाव दे ।
2) पढना और बोल जाने से परीक्षा
नहि दि जाती । पढने, बोलने के बाद
लिखने कि प्रेक्टिस करनी है तब
परीक्षा में अच्छी तरह लिख शकेगें ।
3) परीक्षा कि तैयारी सिर्फ परीक्षा
के एक महिने पहेले नहि करनी है
परीक्षा कि तैयारी स्कूल के पहेले
दिन से हि करनी है ।
4) परीक्षा के
ण परिणाम पे नहि बच्चे
के प्रयत्न पे ध्यान दे और प्रेरित करे ।
5 ) बच्चो कि शारिरीक, मानसिक
स्वास्थता पे ध्यान दे ।अच्छा खोकार
दे और मनःपरिस्थिति शांत-प्रसन्न रखे ।
6-) जो विषय और टोपीक आसान है
उस पर ज्यादा ध्यान दे, पक्का करे ।
7) विद्यार्थी के मन पसंद गेम या शोख
के लिए भी थोडा समय दे ।
8) बच्चे को सहि तरीके से अभ्यास
करने कि सलाह दे जिसे याद रहे
और आराम से परीक्षा दे शके ।
विनोद आनंद 15/07/2019 फ्रेन्ड,फिलोसोफर,गाईड

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s