1754 जीवन के प्रकार

साधारण या असाधरण जीवन
उपयोगी या बीनउपयोगी जीवन ।
व्यस्थ या व्यर्थ जीवन ।
व्यग्र या अस्तव्यस्थ,जीवन
सुख – शांति या दुःखी – अशांति
युक्त जीवन ।
यादगार या महान जीवन ।
तनाव चिंता युक्त या तनाव
चिंता मुक्त जीवन ।
उदेश्य या आयोजन युक्त जीवन ।
उदेश्य या आयोजन हीन जीवन ।
प्रेरणादाई या ऐतिहासिक जीवन ।
परिश्रम या आलसी जीवन ।
अमूल्य या शून्य जीवन ।
विविध प्रकार के जीवन होते है ।
आप जैसा चाहो एसा जीवन
बना शकते हो ।
अगर आप अपना जीवन कैसे
जीना है वो पसंद नहि करोगे तो
अस्थ व्यस्थ,व्यर्थ,व्यग्र,बीन
उपयोगी साधारण जीवन बनेगा ।
जीवन ईश्र्वर कि अद्भूत बक्षिश है,
दिव्य बनाकर ईश्र्वरके चरणोंमें
अर्पीत करके आत्मा कल्याण करना है।
विनोद आनंद 12/10/2019
फ्रेन्ड,फिलोसोफर,गाईड

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s