1897 छोटी छोटी बातों

छोटी छोटी अच्छी बातों
पर ध्यान देने से रिश्तें बेहतर
बनते है और छोटी छोटी बुरी
बातों पर ध्यान देने से रिश्ते
कमजोर बनते है ।
हर बात का बुरा मानने वालों
और हर बार दूसरों कि बुराई
करने वालों के दूसरों के साथ
रिश्ते हमेशा खराब रहते है ।
रिश्तो में कमजोरी या खराबी
जीवन में ज़हर खोलते है ।
छोटी छोटी बातों का बुरा
मानना और हर बार दूसरों
कि बुराई करना खतरनाक
आदत है,उसे छोड दो वरना
लोग तुम्हें छोड देगें ।
हम जीस बातों पे ध्यान देते
है एसा हि हम देखने लगते है
और हम एसे बन जाते है ।
हम दूसरों कि अच्छी बातों
पर ध्यान देते है और बुरी
बातों को नजरअंदाज करे तो
दुनिया कि कोई ताकात रिश्तों
को कमजोर नहि बना शकती ।
बहेतरीन रिश्तें खुसाली देते है ।
कमजोर रिश्तें दुःख दर्द देते है ।
विनोद आनंद 17/02/2020
फ्रेन्ड,फिलोसोफर,गाईड उतु

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s